आजकल लोगों के बीच सोश्ल मीडिया के प्रति लगाव बढ़ते ही जा रहा है। जिसे रोक पाना अब मुमकिन नहीं। सोश्ल मीडिया पर आज के समय में ऐसी कितने ही एप्लिकेशन मौजूद है, जिसके अच्छे से ज्यादा दुष्परिणाम देखने को भी मिल रहे हैं। इसकी अपनी ज़रूरत भी है, पर खास तौर पर आज के युवा के लिए यह भटकाव का कारण बन चुका है। अगर छत्तीसगढ़ के बेमेतरा से आई एक खबर को ही देखा जाए तो पता चलता है कि किस तरह से एक App का प्रयोग करना इंसान को जेल की सलाखों के पीछे भी डलवा सकता है।
ये खबर खास तौर पर Tik-Tok जैसी मशहूर ऐप से जुड़ी है। जिसमें लोग किसी फिल्म के सीन, या गाने या किसी कॉमेडी सीन पर अपनी एक्टिंग करते है। उन्हें सीन में बोले जा रहें शब्दों से अपने शब्द और हाव-भाव को मिलाना होता है। जिससे पता चलता है कि वो व्यक्ति कितनी अच्छी एक्टिंग कर सकता है। ये मशहूर होने का अच्छा तरीका है। लेकिन ज़रूरी नहीं की आप अच्छे तरीके से ही फ़ेमस हो। आप बुरे तरीके से भी फ़ेमस हो सकते है। जैसे कि छत्तीसगढ़ का यह युवक हुआ।
दरअसल, बेमेतरा के रहने वाले युवक आशीष गुप्ता ने Tik-Tok के माध्यम से एक ऐसी विडियो बना दी, जिसके वायरल होते ही उसे जेल जाना पड़ा। विडियो में यह युवक एक नाबालिग लड़की के साथ नज़र आ रहा है। जिसे वो अपने साथ घुमाने लाया था। इसी दौरान उसने लड़की के साथ टिक-टॉक विडियो बना ली। जिसे देख लड़की के परिवार वालों को गुस्सा आ गया और उन्होंने पुलिस थाने में इसकी शिकायत दर्ज करवा दी।
पूरे मामले पर उस नाबालिग लड़की का कहना है कि वो अपने दोस्त आशीष के साथ धमधा के पास घुमने गई थी। जब उसने उसे डराकर वो वीडियो बना ली और उसके साथ छेड़छाड़ भी की और ये बात सबसे छुपाने की धम्की भी दी। तो इस तरह अब लड़के के खिलाफ छेड़छाड़ के अलावा अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here