संध्या के समय कुछ कामों को करने की मनाही होती है। शास्त्रों के मुताबिक कुछ ऐसे कार्य होते हैं, जिन्हें शाम के समय में भूलकर भी नहीं करना चाहिए, अन्यथा धन हानि का सामना करना पड़ता है।
आइए जानते हैं वह कौन से कार्य है जिन्हें शाम के समय करने से बचना चाहिए-

1. भोजन करने से बचे-

शास्त्रों के मुताबिक गोधूलि बेला में भोजन नहीं करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इस समय भोजन करने से बीमारियां पैदा होती है।

2. पढ़ाई ना करें-

गोधूलि बेला अर्थात जब सूरज ढल रहा हो, तो उस समय पढ़ाई नहीं करनी चाहिए। शास्त्रों के मुताबिक इस समय पढ़ाई करने से ज्ञान में वृद्धि होने के बजाय हानि होती है।

3. गोधूलि बेला में सोने से बचे-

शास्त्रों के अनुसार गोधूलि बेला में सोना नहीं चाहिए। इससे धन तथा स्वास्थ्य दोनों की हानि होती है।

4. सायं काल में झाड़ू न लगाएं-

शास्त्रों के मुताबिक सायं काल के समय झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। झाड़ू को लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है। और धार्मिक मान्यता के अनुसार संध्याकाल में लक्ष्मी आगमन का समय होता है। और जो लोग शाम के समय झाड़ू लगाते हैं अर्थात वह घर की लक्ष्मी को बाहर कर रहे होते है, अतः शाम के समय झाड़ू लगाने का मतलब है कि लक्ष्मी का अनादर किया जा रहा है। यही वजह है कि शाम के समय झाड़ू लगाने की मनाही होती है।

ये भी पढ़िए-

1. यदि घर में कर रहे हैं गणेश जी की स्थापना तो भूलकर भी ना करे यह काम, अन्यथा फायदे की जगह होगा नुकसान

2. एक रिश्ते में बंधे होने के बावजूद क्यों आ जाता है किसी दूसरे पर दिल, यह है इसके पीछे की बड़ी वजह

5. पेड़ पौधों को ना छुए-

ऐसा माना जाता है कि सायं काल का समय पेड़ पौधों के आराम करने का समय होता है। अतः शाम के समय पेड़ पौधों को नहीं छूना चाहिए। ना ही उनको पानी देना चाहिए, और ना ही उनके पतियों अथवा फूल को तोड़ना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here