फेसबुक ने 5 साल पहले गुम हुए एक बेटे को उसके परिवार से मिला दिया। जब मां को बेटे की मिलने की खबर मिली, तो उनकी खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। जानते हैं क्या है पूरी कहानी-

दरअसल है पूरा मामला है पिटोल झाबुआ का। 13 वर्षीय प्रवीण की अपने बड़े भाई राकेश के साथ छोटी सी कहासुनी हो गई। जिसके बाद गुस्से में प्रवीण घर छोड़कर चला गया। उसके घरवालों ने हर जगह छानबीन की परंतु उसका कुछ पता नहीं चला। उन्होंने गुजरात समेत कई शहरों में प्रवीण को खोजने की कोशिश की। परंतु प्रवीण के बारे में कोई खबर नहीं मिली। अंत में घर वालों ने हार मान ली। इस घटना के बाद से ही प्रवीण की मां की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी।

फेसबुक ने ऐसे मिलाया बेटे को परिजन से-

इस घटना के लगभग 5 साल बीत जाने के बाद, कुछ समय पहले फेसबुक के माध्यम से प्रवीण का सुराग मिला। दरअसल फेसबुक पर पिटोल के एक डीजे के इश्तेहार को देखकर उसमें लिखे नंबर से प्रवीण ने डीजे वाले से संपर्क किया, और बताया कि वह अपनी पिटोल का रहने वाला है। तब डीजे वाले ने यह खबर उसकी मां के पास पहुँचाई। मां ने जब बेटे के मिलने की खबर सुनी तो उसकी सूनी पड़ी आंखों से आंसू की धारा बह निकली।

ये भी पढ़िए-

1. फेसबुक पर हुई दोस्ती और फिर पहुंच गए होटल में मिलने, होटल में जिससे मिलने पहुंचा वह निकली उसकी ही……..

2. घरवाली और बाहरवाली के चक्कर में फंसा हुआ एक व्यक्ति,फेसबुक ने ऐसे खोली पोल,

बताया जा रहा है कि इन दिनों प्रवीण हिमांचल प्रदेश के पास मनाली में मॉल रोड पर स्थित होटल हिमालयन ढाबे पर काम कर रहा है। बताया जा रहा है कि ढाबे वाले ने उसको कई दिनों से पैसा नहीं दिया है जिसकी वजह से वह घर वापस नहीं आ पा रहा है। प्रवीण के घरवालों ने पुलिस में जाकर इस बात की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस अधीक्षक ने प्रवीण को वापस लाने के लिए परिजन के साथ एक एएसआई पुलिस जवान को भेजने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here