आलस्य एक दीमक की तरह होता है जो इंसान को धीरे धीरे खोखला करता चला आ जाता है। आलस्य इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन होता है जो कभी कभी इंसान को बड़ी मुसीबत में डाल देता है। आज हम आलस्य की एक ऐसी ही घटना आप सबसे बताने जा रहे हैं।

दिल्ली का एक लड़का आशीष श्रीवास्तव दिल्ली के कॉलेज में ही पढ़ता था और वहीं उसकी दोस्ती मुस्कान श्रीवास्तव नाम की लड़की से हो गयी और धीरे धीरे उनकी दोस्ती प्यार में बदल गई। दोनों का प्यार इस कदर बढ़ गया था कि एक दूसरे को देखे बिना उन्हें चैन नहीं आता था। कॉलेज खत्म होने के बाद आशीष की अच्छी पोस्ट पर जॉब लग गयी और मुस्कान भी एक कम्पनी में जॉब करने लगी। दोनों रोज़ शाम को चाय पीते पीते एक दूसरे से मिलकर अपने अपने घर चले जाते। इन दोनों ने शादी करने का फैसला भी कर लिया था मगर एक घटना से सब उलट के रख दिया।

ये बात 8 सितंबर की है। उस दिन मुस्कान देर से रात के करीब 11 बजे घर लौट रही थी। मुस्कान ऑफिस से घर जा रही थी तो रास्ते मे वो आशीष के घर के सामने से गुज़र रही थी। वो घर की तरफ देख रही थी कि इतने में एक कार मुस्कान को टक्कर मारकर चली जाती है।

ये भी पढ़िए-

1. अजब-गजब :- लड़की की खूबसूरती की वजह से स्कूल के प्रशासन को उठाना पड़ा ऐसा कदम

2. पेशेंट के सीने पर बने टैटू को देखकर डॉक्टरों ने लिया इलाज ना करने का फैसला, जाने क्या लिखा था टैटू पर

मुस्कान का बहुत भयंकर एक्सीडेंट हो गया था। उसके बावजूद उसने आशीष को मैसेज किया कि उसने लिखा तुम्हारे घर के सामने मेरा एक्सीडेंट हो गया है, प्लीज आकर मुझे बचा लो। उस समय आशीष सो चुका था मगर मैसेज आते ही उसने फोन देखा और मैसेज पढ़कर फिर सो गया। जब सुबह उठा तो उसने बाहर देखा कि सड़क पर लोग जमा है जब पास जाकर उसने देखा तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। आशीष भागकर अपना मोबाइल देखने गया तो मुस्कान का मैसेज देखते ही चिल्ला चिल्लाकर रोने लगा। रोते रोते वह कह रहा था कि मेरे आलस्य ने मुझे तुमसे छीन लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here