देश में सबसे ज्यादा मेहनत करने वाले होते हैं किसान और उन्हीं किसानों को अन्नदाता की भी संज्ञा दी जाती है मगर फिर भी रोज़ हम किसानों की आत्महत्या जैसी खबरों को सुन ही लेते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। ये मामला उत्तरप्रदेश का है। यहां के एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर एड निकाल दिया कि उसकी किडनी बिकाऊ है।

किसान ने लिया किडनी बेचने का फैसला-

उत्तरप्रदेश के सहारनपुर जिले के किसान राम कुमार ने साहूकारों से कर्जा लिया था और उन साहूकारों का कर्जा चुकाने के लिए राम कुमार बैंक से लोन लेने के लिए काफी प्रयास कर रहे थे लेकिन फिर भी कुछ न हो सका और अंत में जब राम कुमार एकदम थक हार गया तो उसने सोशल मीडिया पर विज्ञापन दे डाला जिसमें उसने अपनी किडनी को बिकाऊ बताया है। उन्होंने विज्ञापन दिया तो कोई उनकी मदद को आगे नहीं आया बल्कि सब लोग किडनी खरीदने को राजी हो गए। मिनट नहीं लगा और उस किसान की किडनी की बोली करोड़ो में लग गई। जैसे ही ये बात सरकारी अधिकारियों तक पहुंची तो वो तुरन्त राम कुमार के घर पहुंच गए और उनकी सहायता करने की बात कही।

ये भी पढ़िए-

1. काम की तलाश में दुबई गया किसान काम न मिलने पर जब वापस भारत लौटा, तब फोन पर आई एक ऐसी खबर जिसे सुनकर हैरान रह गया वो

2. छोटी बच्ची के पास बैठकर जोर जोर से भौंक रहा था कुत्ता, उसके बाद बच्ची की मां ने जो देखा उससे थम गई उनकी सांसे

राम कुमार ने इस विज्ञापन के पीछे के कारण को बताते हुए कहा है कि, “पीएम कौशल विकास योजना के अंतर्गत डेयरी फॉर्म की तीन बार ट्रेनिंग लेने के बावजूद उसे पशु पालन के लिए किसी बैंक ने लोन नहीं दिया। लगातार 10 बार लोन के लिए आवेदन देने के बाद भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी।” फिर उसने साहूकारों से 10 लाख रुपये उधार लेकर दूध की डेयरी खोली। फिर उसमें भी उसको सफलता नहीं मिली और कर्ज में डूबता चला गया फिर उसने मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक अपनी समस्या पहुंचाने की कोशिश की मगर दुर्भाग्यवश असफलता ही मिली। अंततः उसने किडनी बेचने का फैसला लिया और किडनी बिकाऊ है का विज्ञापन दे डाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here