29 सितंबर रविवार से शारदीय नवरात्र पर्व की शुरुआत हो रही है। शारदीय नवरात्र में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रि के 9 दिन मां दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों की विधि पूर्वक पूजा करने से मां दुर्गा प्रसन्न होती हैं, और मन की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं। नवरात्रि के अवसर पर कुछ भक्त 9 दिनों तक व्रत रखते हैं, वहीं कुछ लोग नवरात्रि के प्रतिपदा और अष्टमी के दिन व्रत रखते हैं।

कुछ लोग नवरात्रि के पर्व पर कलश स्थापना भी करते हैं। जानकारी के लिए आपको बता दें कि यदि आप कलश स्थापना कर के 9 दिनों तक नवरात्रि का व्रत रखते हैं, तो इसके लिए बहुत ही विधि-विधान की आवश्यकता होती है। शास्त्रों में 9 दिन का व्रत रखने वाले भक्तों के खानपान से संबंधित कुछ खास नियम बताए गए हैं जिनका उल्लेख हम इस पोस्ट के जरिए आपके सामने करने वाले हैं।

शास्त्रों में बताया गया है कि 9 दिन के व्रत के दौरान किन चीजों का सेवन करना चाहिए और किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

आइए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं-

1. नवरात्रि व्रत के दौरान केवल फलाहारी अनाज जिसमे- कुट्टू का आटा, सिंघाड़े का आटा, सामक, राजगिरा साबूदाना शामिल है, का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा किसी भी अन्न का सेवन नहीं करना चाहिए।

2. नवरात्रि व्रत के दौरान केवल जीरा, काली मिर्च, हरी इलायची, लौंग, दालचीनी इत्यादि मसालों का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा किसी अन्य मसालों का उपयोग नहीं करना चाहिए।

3. नवरात्रि के दौरान आप व्रत रखे या ना रखे, परंतु आपको शुद्ध शाकाहारी भोजन ही करना चाहिए। भूलकर भी नवरात्रि के दौरान मांसाहारी भोजन ग्रहण नहीं करना चाहिए। जो लोग नवरात्रि का व्रत रखते हैं वह शकरकंद, आलू, अरवी, खीरा गाजर इत्यादि सब्जियों का सेवन कर सकते हैं।

4. नवरात्रि व्रत के दौरान देशी घी और बादाम के तेल का इस्तेमाल खाने में करना चाहिए। आप मूंगफली के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। परंतु सरसों के तेल इत्यादि का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।


5. नवरात्रि व्रत में आप फलों का सेवन भी कर सकते हैं।

ये भी पढ़िए-

1. अगर नवरात्रि के नौ दिन आपको ये चीज़ें दिख जाती हैं तो समझ जाइये की आपकी किस्मत चमकने वाली है

2. नवरात्रि स्पेशल- ऐसे करें मां दुर्गा की उपासना, होंगी प्रसन्न, देंगी अभय वरदान

6. नवरात्रि में 9 दिन का व्रत रखने वाले भक्त दूध से बने किसी भी पदार्थ का सेवन व्रत के दौरान कर सकते है।

7. नवरात्रि में प्याज और लहसुन का इस्तेमाल करने से बचें। प्याज और लहसुन को मांसाहारी भोजन की श्रेणी में रखा जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here