शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति के शरीर की बनावट का असर उसके व्यक्तित्व पर पड़ता है। व्यक्ति के शरीर के विभिन्न अंगों की बनावट बताती है कि उसका व्यक्तित्व कैसा होगा। आज के इस पोस्ट में हम इसी से सम्बन्धित कुछ बातें आपके सामने लेकर आये है। दरअसल आज के इस पोस्ट में हम आपको उन व्यक्तियों के व्यक्तित्व के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके पैर की दूसरी उंगली अन्य उंगलियों की अपेक्षा थोड़ी लंबी होती है। शास्त्रों के मुताबिक पैर की दूसरी उंगली का लंबी होना व्यक्ति के व्यक्तित्व तथा उसके भविष्य से जुड़ी कई बातों का उल्लेख करती है।

आइए जानते हैं कैसा है होता है उन व्यक्तियों का व्यक्तित्व जिनके पैर की दूसरी उंगली अन्य उंगलियों के अपेक्षा लंबी होती है।

समुद्र शास्त्र के अनुसार जिन व्यक्तियों के पैर की दूसरी उंगली बाकी उंगलियों की अपेक्षा बड़ी होती है, ऐसे व्यक्ति बहुत ही मेहनती होते हैं। बड़ी से बड़ी मुसीबत सामने आ जाने पर भी यह घबराते नहीं हैं और निडरता के साथ डटकर उसका मुकाबला करते हैं। ऐसे व्यक्ति मेहनत से पीछे नहीं हटते हैं और कड़ी मेहनत की दम पर जीवन में वह मुकाम हासिल करते हैं जिसके यह हकदार होते हैं। जिन व्यक्तियों के पैरों की दूसरी उंगली बाकी उंगलियों के अपेक्षा बड़ी होती है, ऐसे व्यक्ति बहुत ही सकारात्मक सोच वाले होते हैं और यह जहां भी रहते हैं, वहां के आसपास के माहौल में सकारात्मकता भर देते हैं। इनके इसी पॉजिटिव एटीट्यूड की वजह से समाज में इनकी खूब इज्जत होती है। इनकी कहीं हर बात को लोग खुशी-खुशी स्वीकार करते हैं।

ये भी पढ़िए-

1. अनंत चतुर्दशी के दिन व्रत रखकर कर ले यह काम, पूरी होंगी मन की सभी मनोकामनाएं

2. बीकॉम करने के बाद मात्र 22 साल की उम्र में इस वजह से लिया साध्वी बनने का फैसला

शास्त्रों के अनुसार जिन लोगों के पैरों की दूसरी उंगली उंगलियों की अपेक्षा बड़ी होती है ऐसे लोग बहुत ही ऊर्जावान होने के साथ-साथ बेहद इमोशनल होते है। यह हर परिस्थिति में खुश रहना जानते हैं और स्वभाव से थोड़ा चंचल होते हैं। यह तीव्र बुद्धि के मालिक होते हैं और एक निश्चित तरीके से जीवन जीना पसंद करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here