इन दिनों पितृपक्ष का समय चल रहा है, जिसमें पूर्वजों का श्राद्ध किया जाता है। शास्त्रों की मान्यता के अनुसार पितृपक्ष में पूर्वज कोई ना कोई रूप धारण कर कर पृथ्वी पर आते हैं और अपने प्रियजनों के जीवन में नई ऊर्जा प्रदान करते है।

कभी-कभी ऐसा देखने को मिलता है कि पितृपक्ष के दौरान सपने में पूर्वज दिखाई देते हैं। आइए जानते हैं कि इसके पीछे कौन सा संकेत छिपा होता है धार्मिक मान्यता के अनुसार जब पितृ संतुष्ट हो पाते हैं तब वह सपनों के माध्यम से हमें संकेत देते हैं।

आइए जानते सपने में पूर्वजों का दिखाई देने के पीछे भगवान का कौन सा संकेत छिपा होता है-

1. श्राद्ध पक्ष में अगर पूर्वज सपने में दिखाई देते हैं तो यह संकेत होता है कि, पूर्वजों ने आपके दिए गए श्राद्ध को ग्रहण कर लिया है और वह प्रसन्न होकर आपके जीवन में सुख, संपन्नता और सफलता का आशीर्वाद दे रहे हैं।

2. यदि सपने में दिखाई देने वाले पूर्वज शांति की मुद्रा में खड़े हैं तो यह इस बात का संकेत है कि जल्दी आपके जीवन में कोई शुभ समाचार मिलने वाला है।

3. यदि आपके सपने में बार-बार एक ही पूर्वज आ रहे हैं तो यह इस बात का संकेत है कि को शांति नहीं मिली है और वह अभी भटक रही है।

4. यदि आपके सपने में कोई पूर्वज आपके बहुत करीब दिखाई दे तो यह इस बात का संकेत होता है कि वह अभी भी परिवार के मोह को छोड़ नहीं पाया है। ऐसी स्थिति में शास्त्रों के अनुसार अमावस्या के दिन धूप जला कर उन्हें भोग लगाएं। एवं प्रतिदिन गाय को रोटी खिलाये।

ये भी पढ़िए-

1. पितृ पक्ष में भूलकर भी ना करें यह काम अन्यथा होगा भारी नुकसान

2. अगर पितरों का चाहिए आशीर्वाद तो श्राद्ध में कर लें ये उपाय, जिससे घर परिवार में आएंगी खुशियां

5. अगर पितृपक्ष के दौरान आपके पूर्वज सपने में निर्वस्त्र दिखाई दे, तो यह इस बात का संकेत होता है कि वह भूखे हैं। इस तरह का सपना दिखाई देने पर किसी गरीब तथा जरूरतमंद को जरूरत की चीजें दान में दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here