अनुष्का शर्मा मशहूर सितारवादक पंडित रविशंकर की बेटी हैं। वो संक्रमण का शिकार हो गईं थीं जिसकी उन्होंने सर्जरी करवाई है और उनका यूट्रस निकाल दिया गया है। उन्होंने ये कदम इसीलिए उठाया क्यूंकि उनकी परेशानी काफी बढ़ गई थी।

अनुष्का ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक लेख शेयर किया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि, “पिछले महीने मैंने डबल सर्जरी कराई है। अब मेरे पास यूट्रस नहीं है। मेरे पेट और यूट्रस में करीब 13 ट्यूमर थे। इससे मेरा यूट्रस छह महीने के गर्भवती महिला जैसा हो गया था। डॉक्टर ने सर्जरी से उन्हें निकाल दिया।

कुछ महीने पहले जब मुझे पता चला कि मुझे यूट्रस निकलवाना पड़ेगा तो मैं तनाव में चली गई।” आगे उन्होंने लिखा है कि, “यूट्रस निकालने की जानकारी मुझे अंदर तक झकझोर दिया। यह एक मेरी औरत होने की पहचान को खोने जैसा था। भविष्य में कोई संतान पैदा न कर पाने का भय था। यही नहीं मुझे इस सर्जरी से पहले लग रहा था कि कहीं मेरी बच्चे बिना मां के ना हो जाएं। मैंने इस बारे में अपने दोस्तों और अपने परिवार से बात की त‌ब जाकर मुझे पता चला कि कितनी ही ऐसी महिलाएं हैं हिस्टेरेक्टॉमी की सर्जरी कराई है। पहले मैं इससे एकदम अन‌भिज्ञ थी।”

उन्हें आगे लिखा है कि-

“मैं पूरी तरह से अचंभित थी। अगर यह सर्जरी इतनी आम है तो लोग इसके बारे में बात क्यों नहीं करते। जब मैंने इसके बारे में एक महिला से पूछा तो उसने बहुत चौंकाने वाली बात कही। उसने कहा कि हम हर जगह औरतों से जुड़ी छोटी-मोटी चीजों का प्रचार नहीं करते हैं। क्या करना है?”


अनुष्का अपनी सर्जरी के बारे में विस्तारपूर्वक बताते हुए लिखती हैं कि, “मेरी उम्र तब महज 11 साल थी जब मुझे पीरियड्स आने लगे। मुझे हर 20-25 दिन में बेताहाशा दर्द होता और मैं खून से लथपथ हो जाती। कई बार मैं दर्द के मारे फर्श पर उलटती-पुलटती रहती थी। तब डॉक्टरों के ने मुझे दवाइयां दीं। लेकिन ऐसा हर महीने होता।”

अनुष्का आगे लिखती हैं कि-

“मेरी उम्र महज 26 साल थी जब मुझे फाइब्रॉएड गर्भाशय की समस्या हुई। मुझे डॉक्टरों को धन्यवाद करना चाहती हूं जिन्होंने इस समस्या से उबारकर मुझमें दो संताने पैदा करने का मौका दिया। सबसे पहले मुझे यूरीन संक्रमण हुआ। तब भी बहुत दर्द होता था। उन दिनों हर रोज मुझे अस्पताल जाना होता था। मैं बहुत कमजोर हो गई थी। उन दिनों में तनाव में चली गई थी। उन्हीं दिनों मुझे अपने एलबम रिलीज करने के लिए रात में तीन घंटे सोने की मोहलत भी मिलती थी।

आगे उन्होंने लिखा है कि-

“जब मैं पहली बार गर्भवती हुई तब भी मुझे काफी तकलीफ का सामना करना पड़ा। लेकिन हाल के दिनों में मुझे बहुत दर्द शुरू हो गया। समस्या बढ़ने लगी तो मैंने सर्जरी कराने की सोची।”

वो खुद को भाग्यशाली मानते हुए लिखती हैं कि-

“अब मैं अपने घर पर हूं। ठीक हूं। मुझे बहुत असाधारण सहयोग मिला। मैं भाग्यशाली हूं। मैं किसी सलाह के लिए यह सब नहीं बता रही हूं। मैं ये भी जानती हूं कि मेरी कहानी बहुत अलग नहीं है। महिलाएं हर दिन कठिनाइयों से गुजर रही हैं। मैं बस ये बताना चाहती हूं कि मैंने यह सर्जरी कराई है। मैंने अपने शरीर से हानिकारक ट्यूमर हटवा दिया है।”

ये भी पढ़िए-
1. सुहागरात पर दुल्हन के ना शर्माने पर पति ने दे डाली इतनी बड़ी सजा, ज्यादा फ़िल्में देखने की वजह से हुआ ऐसा

2. कक्षा 10 की एक छात्रा ने स्कूल में ही दिया बच्ची को जन्म, उसके बाद जो खुलासा हुआ वह था हैरान करने वाला

अनुष्का ने 13 साल की छोटी सी उम्र में अपना पहला पब्लिक परफॉर्मेंस प्रस्तुत किया था और अब उनका करियर 23 साल का हो गया है। उन्हें सितार बजाने के साथ ही एक्टिंग करने का, कंपोजिशन और लिखने का भी शौक है। उन्हें अब तक 6 बार ग्रैमी अवार्ड्स के लिए नॉमिनेट किया जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here