वैसे तो आजकल के मॉडर्न जमाने में हाइट रंग से लोगों का भेदभाव करना समाज ने बंद कर दिया है मगर कम हाइट होने से अक्सर लोगों को कई तरह को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। भले ही उनके आम ज़िन्दगी में सारे काम आसानी से हो जाते हो मगर कम हाइट वाले लोगों को अक्सर कुछ छोटी छोटी कामों में दिक्कतें आती है जैसे की gaadi चलाने में या फिर हो किसी ऊंचे जगह से किसी चीज को उतारने में।

लेकिन इन सब के अलावा उन्हे और भी ऐसी चीजों का सामना करना पड़ता जिनके बारे में उन्हे ज्यादा नहीं पता होता। आज हम आपको बताने जा रहे उन्ही बीमारियों के बारे में को अक्सर शॉर्ट हाइट वाले लोगों को होते हैं:

एक स्टडी के अनुसार शॉर्ट हाइट वाले लोगों को टाइप 2 डायबिटीज़ का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। आपको बता दे की अलग अलग स्टडीज के अनुसार सब के रिपोर्ट में ये माना गया है कि औसतन 10 सी मी के हाइट बढ़ोतरी पर डायबिटीज़ ना होने के 30 प्रतिशत खतरें कम हो जाते हैं। पुरोषों में औसतन 33% और महिलाओं के 40% डायबिटीज़ का खतरा कम हो जाता है।

इसके अलावा आपको बता दे कि जिन स्त्रियों के पैर उनके धर के मुकाबले ज्यादा होते हैं उन स्त्रियों को टाइप 2 डायबिटीज़ का खतरा भी कम होता है।

बात करें हार्ट से जुड़ी समस्याओं के बारे में तो रिपोर्ट्स के अनुसार जिनकी हाइट लंबी होती है उनके लीवर फैट कंटेंट छोटे होते हैं शॉर्ट हाइट वाले लोगों के मुताबिक जिसकी वजह से छोटे हाइट वाले लोगों में वसा ज्यादा बनता है और इंसुलिन कम होती है जिसके वजह से हार्ट की कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है।

इन चीजों से बचने के लिए शॉर्ट हाइट वाले लोगों को अक्सर सुबह खुली हवा में व्यायाम करना चाहिए जिससे उनके हार्ट से जुड़ी समस्या का सामना कम हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here